MP VAT QUARTERLY RETURN

Please consider before filing Quarterly VAT Return
वित्तीय वर्ष 15-16 के  विवरणपत्र (fourth Quarter) को प्रस्तुत करने की अंतिम दिनांक 30.04.16 है। इस विवरणी को भरने के पूर्व आपसे यह अपेक्षा की जाती है कि जिन व्यवसाईयों को आपके द्वारा माल का क्रय किया गया है या जिन व्यवसाईयों को  आपके द्वारा माल विक्रय किया गया है। उन व्यवसाईयों को क्रमश: क्रय एवं विक्रयों की सूची भेजकर यह सुनिश्चित कर लिया जावे कि जितनी क्रय अथवा विक्रय हमारे द्वारा दर्शाई गई है, उतनी ही क्रय या  विक्रय उनके द्वारा विवरणपत्रों में दर्शाई जा रही है। यदि इस प्रकार से क्रय एवं विक्रय का मिलान हमारे द्वारा रिटर्न प्रस्तुत करने के पहले कर लिया जाता है तो रिटर्न प्रस्तुत करने के पश्चात् किसी प्रकार का कोई मिस्मेच शेष नहीं रहेगा तथा कर निर्धारण के समय मिसमैच के कारण इनपुट टैक्स रिबेट अमान्य होने के कारण निकलने वाली अनावश्यक डिमांड से मुक्ति मिल सकेगी | 

Leave a Reply